Meri Aakhiri Muhabbat-Love Story in Hindi | Hindi Love Story

Love Story in Hindi | Hindi Love Story | Most Romantic Love Story in Hindi

रात के 11:30 बजे थे मैं अपने ऑफिस से थोड़ा देर से निकली थी मैं एक जर्नलिस्ट हूं इसलिए मुझे अक्सर ऑफिस में काम करते देर हो जाती है ।

उस दिन भी ऐसा ही हुआ मैं ऑफिस से निकली ही थी कि मैंने देखा एक लड़की पागलों की तरह दौड़ती हुई चली आ रही है और वह सीधे आकर मेरी गाड़ी से टकरा गई | मैंने फौरन ड्राइवर को गाड़ी रोकने के लिए कहा हम गाड़ी से उतरे तो देखा वो लड़की बेहोश हो गई है|

मैं और मेरा ड्राइवर भाग कर उसके पास गये तो उसकी शक्ल देखकर मैं हैरान रह गई वो मेरी कॉलेज की फ्रेंड शाएना थी ।

मुझे अपनी आंखों पर यकीन नहीं हो रहा था कि क्या यह सच में शाएना है, क्योंकि शाएना लखनऊ की एक बहुत ही बड़ी फैमिली से belong करती थी ।

मैंने अपने ड्राइवर से कहा कि इसे उठाकर गाड़ी में बैठाओ शाएना बेहोशी की हालत में बस यही कहे जा रही थी , मैं जीना नहीं चाहती, मैं जीना नहीं चाहती थोड़ी देर में मेरा घर आ गया|

मैंने अपने नौकर और ड्राइवर से कहा कि इसे  गेस्ट रूम में ले जाओ | मैंने डॉक्टर को कॉल किया डॉक्टर ने कहा कि डरने वाली कोई बात नहीं है मैंने नींद का इंजेक्शन दे दिया है अब ये आराम से सो जाएंगी ।

Love Story in Hindi | Hindi Love Story | Most Romantic Love Story in Hindi

Love strory in hindi
Love strory in hindi

मैं आंखें बंद करके अपने कमरे में कुर्सी पर बैठी थी मुझे लखनऊ में अपने कॉलेज का जमाना याद आ गया|
कॉलेज का वो पहला दिन था जब मेरी शाएना से मुलाकात हुई थी शाएना बहुत खूबसूरत थी उसका वो सांवला रंग ,तीखे नैन नक्श लंबे घुंघराले बाल गाल पर एक छोटा सा काला तिल उसकी खूबसूरती में चार चांद लगा देता था।
जो भी शाएना को एक बार देखता बस देखता ही रह जाता उस पर उसके बात करने का अंदाज बहुत ही प्यारा था ।

मेरी और शाएना कि पहले दिन से ही दोस्ती हो गई। मेरा एक बचपन का फ्रेंड था अमित उसने भी हमारे कॉलेज में ही एडमिशन लिया था ,थोड़े दिन में हम सब बहुत अच्छे दोस्त बन गए ।

Also Read This :
Breakup Shayari| Breakup shayari in hindi
Top Heart touching status|Heart touching whatsapp status

Hindi Love Story
Hindi Love Story

शाएना को शायरी का बहुत शौक था ,वो बहुत अच्छी ग़ज़लें और नज्में लिखती थी | अक्सर वो कॉलेज के टैलेंट हंट में पार्टिसिपेट करती और ज्यादातर फर्स्ट आती |

शाएना और उसकी ग़ज़लों का पूरा कॉलेज दीवाना था लेकिन शाएना बहुत अमीर परिवार से belong करती थी तो लोग उससे बात करने में थोड़ा घबराते थे लेकिन वो बिल्कुल भी घमंडी नहीं थी । सबसे प्यार से बात करना सब की मदद करना उसकी आदत थी ।

अमित के घर के हालात कुछ ठीक नहीं थी शाएना कई बार उसकी फीस भी जमा करा देती थी ,अमित जब भी कहता मैं जल्दी पैसे वापस कर दूंगा वो हंस कर बोलती हां सूद समेत वापस लूंगी।

वो हमें कभी कैंटीन में भी ज्यादा खर्च करने नहीं देती थी,जब भी मैं शाएना से पूछती कि तुम सबकी इतनी मदद क्यों करती हो तो वो कहती लोगों की मदद करके मुझे बहुत अच्छा लगता है एक अजीब सा सुकून मिलता है।
मुझे लगता है मैंने पैसा सही जगह खर्च किया और शायद इनमें से मुझे किसी की दुआ लग जाए और मैं जो बनना चाहती हूं वो बन पाऊं दरअसल शायना शायरी में अपना मक़ाम बनाना चाहती थी और शायरा बनाना उसका ख्वाब था, लेकिन वो जानती थी कि उसे अपने घर से कभी परमिशन नहीं मिलेगी क्योंकि उसकी फैमिली में लड़कियों को काम करना अलाउड नहीं था।

Love Story in Hindi | Hindi Love Story | Most Romantic Love Story in Hindi

Most Romantic love story in hindi
Most Romantic love story in hindi

जब भी शाएना अपनी सफेद गाड़ी में बैठकर कॉलेज आती, ब्रांडेड कपड़े ,जूते, हाई ब्रैंड चश्मा पहनती तो हम सब यही सोचते काश हमें भी ऐसी जिंदगी मिली होती लेकिन शाएना कहती मुझे इन चीजों की कोई जरूरत नहीं है |

मैं पंख लगा कर आजाद पंछी की तरह आसमान में उड़ना चाहती हूं और शाम को थक कर अपने एक ऐसे घोसले में लौटना चाहती हूं जहां मैं कल के लिए नए ख्वाब देख सकूं लेकिन मैं और मेरी ख्वाहिशे एक पिंजरे में कैद है और मुझे नहीं लगता है मुझे इस पिंजरे से कभी रिहाई मिल पाएगी, ये पिंजरा दिन-ब-दिन तंग तो हो सकता है लेकिन मुझे इससे रिहाई कभी नहीं मिल सकती।

वक्त धीरे-धीरे बीतता जा रहा था और हमारी दोस्ती भी गहरी होती जा रही थी | मुझे एहसास होने लगा कि अमित शाएना से प्यार करने लगा है | अमित एक brilliant स्टूडेंट था वो कंप्यूटर इंजीनियर बनना चाहता था|

वो सबसे नजर चुरा कर शएना को देखता ,लाइब्रेरी में भी ऐसी जगह बैठता जहां से वो शएना को देखता रहे|
मैं यह सब ऑब्जर्व कर रही थी शएना रोज हम सबको अपनी एक गजल सुनाती अमित चुपके से अपने फोन में उसकी ग़ज़ल रिकॉर्ड कर लेता | मैं यह सब देखती रहती थी|
अमित ने कभी शएना को उसके बर्थडे, ईद या फ्रेंडशिप डे पर कोई गिफ्ट नहीं दिया,वो हमेशा उसे फूलों का एक गुलदस्ता दे देता, हम सब हंस कर बोलते कंजूस कभी तो फूल के अलावा कुछ और दे दे लेकिन वो चुप रहता | अमित का शएना के लिए लगाव् बढ़ता ही जा रहा था|

वो एक दिन कॉलेज नहीं आती थी तो वो पागलों की तरह हमारी क्लास के चक्कर काटता रहता,कभी कैंटीन कभी पार्किंग में उसकी गाड़ी चेक करता मुझे समझ आने लगा था कि अमित शएना को दिल की गहराइयों से प्यार करने लगा है|

Love Story in Hindi | Hindi Love Story | Most Romantic Love Story in Hindi

3 साल कब बीत गए पता ही नहीं चला हमारा कॉलेज खत्म होने वाला था एक दिन मैंने अमित से कहा अमित जल्दी हमारा लास्ट ईयर भी खत्म हो जाएगा मैं जानती हूं तुम शएना से बहुत प्यार करते हो, तुम उसे अपनी feelings बता क्यों नहीं देते , कहीं बहुत देर ना हो जाए तुमने पूरे 3 साल लगा दिए और अब तो ग्रेजुएशन पूरी होने में सिर्फ 1 महीना बचा है|

अमित खामोश खड़ा था उसने मुझसे कहा शएना और मेरे बीच में सिर्फ पैसे की नहीं मजहब की भी बहुत बड़ी दीवार है,मैं चाहकर भी शएना को पा नहीं सकता और यह कहां लिखा है कि प्यार में एक दूसरे को पा लेना ही प्यार होता है|

मैं शाएना से प्यार करता हूं मेरे लिए बस यही काफी है वो हंसकर बोला वैसे भी एक तरफा प्यार में खोने का डर नहीं होता मेरे प्यार पर सिर्फ मेरा हक है और यह हक मुझसे ना पैसा छीन सकता है और ना मजहब|

अमित के होठों पर हंसी और आंखों में आंसू थे मैंने अमित से कहा फिर भी एक बार शएना को अपनी फीलिंग के बारे में बता दो | मेरे ज्यादा फोर्स करने पर अमित ने कहा ठीक है कॉलेज के last दिन में शएना को अपनी फीलिंगस बता दूंगा | अभी उसे यह सब बता कर मैं उसकी दोस्ती खोना नहीं चाहता|

हमारे कॉलेज का आखिरी दिन आ गया हम सब खुश भी थे और दुखी भी,खुश इसलिए थे कि अब हमारे ख्वाबों को पर मिलने वाले थे और दुखी इसलिए कि हम सब अब अलग हो जाएंगे|
शएना का फेवरेट कलर वाइट था, अमित ने  farewell पार्टी में वाइट पेंट शर्ट पहनी थी और शएना ने वाइट सूट दोनों बहुत खूबसूरत लग रहे थे|

अमित के हाथ में एक गिफ्ट पैक था और शएना के हाथ में भी एक पैकेट था| अमित के गिफ्ट पर लिखा था फॉर शाएना हम सब दोस्त हंसकर बोले फाइनली आज तुमने शएना के लिए गिफ्ट खरीद ही लिया|

अमित ने शएना की तरफ मुस्कुरा कर देखा और उसे गिफ्ट दिया | अमित ने उसका  हाथ पकड़ा और उसे अलग लेकर चला गया सब फ्रेंड अमित को हैरानी से देख रहे थे | शएना भी सरप्राइज़ थी कि आज अमित को क्या हो गया है|

अमित शएना को अकेले में ले गया और कहा कि गिफ्ट खोल कर देखो शएना अमित के बिहेवियर पर बहुत हैरान थी | शएना ने गिफ्ट खोला तो देखा उसमें एक किताब थी| किताब पर लिखा था “ख्वाहिशें” मैंने पहला पन्ना खोला तो उसपर लिखा था प्यार का पहला तोहफा मेरी शएना के लिए|

शएना हैरान थी उसने अगला पन्ना खोला तो उसमें शाएना कि वो पहली ग़ज़ल थी जो उसने पहली बार कॉलेज के टैलेंट हंट में पढ़ी थी |

अमित ने शएना की सारी ग़ज़लें एक किताब में छपवाकर उसको गिफ्ट करी थी | शएना ने अमित से पूछा यह सब तुमने कैसे किया,अमित ने कहा मैंने इन 3 सालों में तुम्हें आज तक कोई गिफ्ट नहीं दिया मैं इतना भी ग़रीब नहीं हूं कि तुम्हें एक गिफ्ट भी ना दे सकूँ,लेकिन मैं तुम्हें एक अनमोल तोहफा देना चाहता था, जो तुम्हारे दिल के करीब हो  एक ऐसा तोहफा जो तुम्हें कभी किसी ने ना दिया हो|

तुम्हारी इन आंखों की तरह पाक और तुम्हारी इन ग़ज़लों की तरह खूबसूरत | शएना अमित के दिल की बात बिना कहे समझ चुकी थी |

Love Story in Hindi | Hindi Love Story | Most Romantic Love Story in Hindi

शएना ने कहा तुमने बहुत देर कर दी अमित,मै चाह कर भी तुम्हारी मोहब्बत को कुबूल नहीं कर सकती हूं वजह तुम जानते हो, अमित ने कहा मैं तुमसे प्यार करता हूं मेरे लिए बस इतना ही काफी है|

अगर तुमने मेरी इस तोहफे को कुबूल कर लिया तो मुझे लगेगा कि तुम्हारे दिल के किसी कोने में एक छोटी सी जगह मेरी भी है, शएना ने कहा मैं तुम्हारे इस तोहफे को हमेशा संभाल कर रखूंगी और खुदा से दुआ करुंगी कि तुम खूब तरक्की करो और तुम्हें मुझसे भी अच्छी लड़की मिले |
अमित ने कहा पूरी दुनिया में मेरी शाएना जैसी कोई लड़की नहीं हो सकती | शएना ने अपने बैग से एक कार्ड निकाल कर अमित को दिया वो उसकी की मंगनी का कार्ड था |

शएना ने कहा अमित मेरी मंगनी में आओगे ना वो चुपचाप कार्ड लिए खड़ा था,उसने कहा हां जरूर आऊंगा तुम्हारी खुशियों में शामिल भी हूँगा और भगवान से कहूंगा कि मेरे हिस्से की सारी खुशियां भी तुम्हें दे दे|

Love story hindi
Love story hindi

शएना और असद की शादी हो गई हम सब लोग अपनी-अपनी दुनिया में मसरूफ़ हो गए|
मैं जर्नलिज्म करने के लिए दिल्ली आ गई और अमित चेन्नई चला गया | मुझे यह सब सोचते-सोचते सुबह के 4:00 बजे गए थे मेरी आंख कब लगी मुझे पता ही नहीं चला | सुबह के 9:00 बजे घबराकर मेरी आंख खुली |

मैं भागकर शएना के कमरे में गई तो देखा वो अभी सो रही थी शायद नींद के इंजेक्शन का असर था |
मैंने अपनी मेड से कहा कि वो शएना के पास बैठे और जैसे ही वो उठे मुझे फॉरेन बताएं आधे घंटे बाद मेरी मेड कमरे में आई और बोली मैडम जी आपकी दोस्त उठ गई है और वह जाने की जिद कर रही है|
मैं भागकर शएना के कमरे में गई, उसकी दिमागी हालत इतनी खराब थी कि वो मुझे पहचान ही नहीं पाई मैंने उसे जोर से पकड़ कर कहा शएना क्या हुआ है तुम्हें, मैं तुम्हारी कॉलेज फ्रेंड पायल हूं शांत होकर मुझे देखो तो फिर उसने मुझे ध्यान से देखा  और चुपचाप बैठ गई|

शएना बिल्कुल बदल चुकी थी बहुत कमजोर पीला रंग,उसकी आंखों की चमक चेहरे की मुस्कुराहट सब खो गई थी | मेरे सामने एक जिंदगी से हारी हुई लड़की बैठी थी जो ना रो रही थी और ना ही कुछ बोल रही थी |
मैंने शएना से कहा तुम पहले फ्रेश हो जाओ फिर नाश्ता करने के बाद बात करते हैं | मैंने और शएना ने नाश्ता किया उस दिन मैंने ऑफिस से छुट्टी ले ली मैं बस जानना चाहती थी कि ऐसा उसके साथ क्या हुआ है  |
मैंने शएना का हाथ प्यार से पकड़ा और कहा मैं तुम्हारी वही कॉलेज फ्रेंड हूं जिसे तुम अपने दिल की हर बात बताती थी प्लीज मुझे बताओ क्या हुआ है |

Love Story in Hindi | Hindi Love Story | Most Romantic Love Story in Hindi

शएना चुपचाप जाकर खिड़की के पास खड़ी हो गई उसने बोला कॉलेज खत्म होने के बाद मेरी शादी असद से हो गई थी ,मैंने कहा हां मैं जानती हूं असद का बहुत बड़ा होटल बिजनेस था और उसने अपनी पढ़ाई लंदन से की थी|
शएना ने कहा कॉलेज के बाद तुम जर्नलिज्म के लिए दिल्ली आ गई और अमित चेन्नई चला गया |
मैंने बड़ी उम्मीदों और अरमानो के साथ अपनी शादीशुदा जिंदगी में कदम रखा | मैंने असद के लिए अपने हर ख़वाब को भुला दिया |वो मेरी जिंदगी में आने वाला पहला मर्द था |

मैं असद के प्यार में सब कुछ भूल गई बस वो मेरी दुनिया बन गया लेकिन असद का ध्यान शुरू से ही अपने काम पर ज्यादा रहता वो बिजनेस की हर प्रॉब्लम घर ले आते और अपना सारा गुस्सा मुझ पर निकालते|

मै हर शाम रेडी हो कर असद का इंतजार करती लेकिन वो ज्यादातर देर से आते और आते ही मुझ पर चिल्लाना शुरू कर देते | उन्हें मेरे हर काम में कमी नजर आती थी  मैं कुछ भी पहनती वो कहते  तुम्हें ड्रेसिंग सेंस नहीं है, तुम्हे लोगों से बात करना नहीं आती, तुम्हारा सांवला रंग है तुम पर डार्क कलर अच्छे नहीं लगते, धीरे-धीरे मैं अपना सेल्फ कॉन्फिडेंस खोने लगी|

अब मुझे अपनी हर चीज में कमी नजर आने लगी, थोड़े दिन बाद अम्मी अब्बू का भी इंतकाल हो गया | भाई और भाभी अमेरिका शिफ्ट हो गए,भाभी ने भाई को हम सब से बिल्कुल दूर कर दिया, महीनों भी फोन पर बात नहीं होती थी | मैं अगर फोन करती,तो भाभी बात नहीं करती थी | अब मैं बिल्कुल अकेली हो गई , वो हंसी-खुशी रहने वाली  शएना  अब कहीं  खो गई थी  |

धीरे-धीरे में बीमार रहने लगी असद का बर्ताव और भी खराब हो गया | हमारी शादी को 4 साल हो चुके थे लेकिन बच्चा भी नहीं हो पा रहा था | असद के अम्मी अब्बू उनकी दूसरी शादी की बात करने लगे, मैंने उनसे कहा आप दूसरी शादी कर लीजिए शायद मैं आपको औलाद ना दे सकूं | असद ने कहा मुझे तुम्हारी राय की जरूरत नहीं है मुझे जो करना है मैं कर लूंगा |

हमारे बीच नाराजगी बढ़ने लगी,दिन-ब-दिन हमारे बीच दूरियां बढ़ती ही जा रही थी | एक दिन अचानक असद ने बहुत गुस्से में आकर मुझसे कहा कि यह लो तलाक के पेपर  और इन पर साइन करो |

मुझे समझ नहीं आ रहा था कि मैं क्या करूं, साइन करूं या ना करूं लेकिन जब असद ने कहा कि जबसे मैं उसकी जिंदगी में आई हूं उसका जीना हराम हो गया है उसकी सारी खुशियां छीन गई हैं ,मुझसे शादी करना उसकी जिंदगी की सबसे बड़ी भूल थी | उस वक्त मै बिलकुल हार गई | मैंने उनसे कहा तुम ही मुझे बताओ कि मैं कहां जाऊंगी अम्मी अब्बू भी इस दुनिया में नहीं रहे|

Love Story in Hindi | Hindi Love Story | Most Romantic Love Story in Hindi

असद ने बड़े गुस्से से कहा मुझे कुछ नहीं पता कि तुम कहां जाओगी अगर जिया नहीं जाता तो मर जाओ | मैंने पेपर पर साइन किए और मैं बाहर निकल पड़ी मैं अब जीना नहीं चाहती थी |
मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था कि मैं कहां जाऊं मैं भागती चली जा रही थी तो अचानक तुम्हारी गाड़ी से टकरा गई अब मैं यहां से जाना चाहती हूं | पायल ने कहा तुम पागल हो गई हो मैं तुम्हें यहां से कहीं नहीं जाने दूंगी, क्या दुनिया में सिर्फ खून के रिश्तो का मोल होता है, दिल के रिश्तो का दोस्ती का कोई महत्व नहीं होता मैं तुम्हारी वही पुरानी दोस्त हूं और अभी तुम आराम करो हम आगे मिलकर सोचेंगे कि क्या करना है|

पायल ने कहा तुम बिल्कुल मत घबराओ भगवान ने तुम्हारी दोस्त को इस काबिल कर दिया है कि वो  तुम्हें आराम से अपने पास रख सकती है और शएना तुम्हे हमारी दोस्ती की कसम है यहां से जाने के बारे में मत सोचना|
शएना चुपचाप बैठ गई पायल ने कहा हम इस बारे में अब और कोई बात नहीं करेंगे असद का मैटर बस यहीं खत्म हो गया | शएना चुपचाप खड़ी थी, धीरे-धीरे वक़्त बीतता गया|

शाएना अपनी पुरानी तकलीफों को भूलने लगी और घर के कामों में  मेड का हाथ बटाती,मैं उसे अक्सर मना करती कि तुम यह सब काम मत किया करो वो मुझसे कहती कि अगर मैं घर का काम नहीं करूंगी तो बैठी रहूंगी और अगर मैं अकेले बैठती हूं तो मेरा पुराना अतीत मेरे सामने एक भयानक रूप लेकर खड़ा हो जाता है और मैं फिर उन्हीं यादों में खो जाती हूं जो मुझे पागल करने लगती है |

मैं काम में बिजी रहती हूं तो मुझे समय का पता नहीं चलता प्लीज मुझे घर के  काम में अपनी मेड की हेल्प करने दो मैंने शाएना से कहा अच्छा ठीक है तुम्हें जैसा ठीक लगे तुम वो करो लेकिन शएना ने घर से निकलना बाहर जाना,लोगों से मिलना बिलकुल छोड़ दिया था |

मैंने एक दिन शएना से कहा, आज घर पर मेरे ऑफिस के बॉस और कुछ फ्रेंड्स डिनर पर आ रहे हैं | अमित भी अब दिल्ली में ही है वो भी आज रात पार्टी में आएगा, क्या तुम पार्टी में अपने पुराने फ्रेंड से मिलना चाहोगी|
शएना ने  साफ मना कर दिया उसने कहा कि नहीं मैं उन लोगों की नजरों में अपनी जिंदगी का तमाशा बनते हुए नहीं देख सकती | मैं नहीं चाहती कि वो  मुझे रहम की नजरों से देखें|

मैंने कहा नहीं नहीं ठीक है अगर तुम नहीं चाहती हो तो मैं तुम्हें किसी से नहीं मिलने के लिए नहीं कहोंगी | तुम ऊपर के कमरे में ही रहना|
शएना ने मेरा हाथ पकड़ा और कहा प्लीज अमित को मेरे इस हालत के बारे में बिल्कुल भी मत बताना अब तक तो उसकी शादी भी हो चुकी होगी और उसके बच्चे भी होंगे मैं नहीं चाहती कि वह पुराने दिनों को याद करके अपने अतीत में खो जाए जो बीत गया सो बीत गया |

मेरी तकदीर खराब थी जो मेरे साथ ये सब कुछ हुआ लेकिन मैं दूसरे की जिंदगी खराब करना नहीं चाहती, पायल चुपचाप खड़ी थी उसने कहा शाएना तुम जैसा चाहती हो बिल्कुल वैसा ही होगा तुम बिल्कुल फिक्र मत करो |
पायल हंस कर बोली लेकिन तुम खाना बनाने में मेरी मेड की मदद तो करोगी ना और हां वो शामी कबाब जरूर बनाना जो तुम कॉलेज में लेकर आती थी |

शएना ने हंसकर कहा मैं हूं जरूर बना दूंगी | शाएना पार्टी के काम में जुट गई और उसने सारा काम बहुत अच्छे से करा बहुत अच्छा खाना बनाया और चुपचाप ऊपर के कमरे में चली गई|
शाम होते ही मेहमान आने शुरू हो गए कॉलेज के कई फ्रेंड भी आए थे | अमित भी आया था उसने  वाइट कलर का सूट पहना हुआ था जिसमें वह बहुत ही हैंडसम लग रहा था|
अमित को हंसता खेलता देखकर शएना बहुत खुश हो रही थी लेकिन थोड़ी देर बाद अमित काफी परेशान सा लगने लगा कबाब खाते ही अमित इधर-उधर देखने लगा उसने थोड़ी देर में पायल से कहा मै घर जा रहा हूँ कुछ ज़रूरी काम है|

पायल समझ गई थी के अमित कबाब खा कर upset हो गया है  | मैंने next day अमित को call किया और  पूछा कल क्या हो गया था ,अमित ने कहा की कबाब का taste बिल्कुल शएना के हाथ का था |

उसने कहा मुझे अजीब सी बैचैनी हो रही थी लग रहा था शएना मेरे आसपास है | पायल ने कहा तुमने सही समझा शएना मेरे घर पर है मैंने अमित को शएना की सारी कहानी सुनाई तो वो बैचैन हो उठा |
उसने कहा
मुझे अभी शएना से मिलना है मैंने कहा नहीं शएना ने मुझे किसी को भी बताने से मना किया है, मुझे डर है कहीं वो फिर से खुदकूशी की कोशिश ना करे ले |

हमें बहुत patience से काम लेना होगा मैंने एक psychiatrist से बात की है उसके बाद decide करेंगे की क्या करना है | कल वो psychiatrist शएना से मिलने मेरे घर आएगा | 

पायल ने शएना से कहा की आज मुझसे मिलने मेरे बॉस आ रहे हैं बहुत important काम है,थोड़ी देर बाद door बेल बजती है,पायल ने  गेट खोलकर डॉक्टर को अन्दर बुलाया  वो कुछ देर बैठकर डॉक्टर से बातें करने लगी ताकि शएना को शक ना हो सके | थोड़ी देर बाद पायल शएना के पास आई और बोली की वो एक बहुत important फाइल ऑफिस में भूल आई है क्या वो थोड़ी देर के लिये उसके  बॉस को कंपनी दे सकती है, पायल ने कहा मेरी जॉब का सवाल है |

शएना डॉक्टर के पास आकर बैठ गई डॉक्टर ने थोड़ी देर में ही उसकी दिमागी हालत का पूरा पता लगा लिया | थोड़ी देर में पायल वापिस आ गई | अगले दिन पायल डॉक्टर से मिली डॉक्टर ने कहा शएना अपना कॉन्फिडेंस खो चुकी है उसके साथ किसी तरह की जबरदस्ती मत करना, आपको शाएना को बहुत आराम से हैंडल करना पड़ेगा।

पायल ने अमित से कहा  तुम अभी शायना से मत मिलना । 2-3 महीने बीत गए पायल और अमित एक दुसरे से नहीं मिले पायल को लगा की अमित शायद शाएना से नहीं मिलना चाहता । 1 दिन door bell बजी मैंने जाकर देखा तो गेट पर अमित खड़ा था,अमित ने कहा मैं शाएना से एक बार मिलना चाहता हूं ज़रूरी बात करनी है ,plz मना मत करना।

मै शाएना के कमरे में गई और कहा अमित तुमसे मिलना चाहता है,शाएना इंकार करने लगी तभी अमित भी वहां आ गया और बोला शाएना मेरी थोड़ी सी बात सुनलो,मै जनता था कि तुम पायल के साथ रह रही हो, लेकिन तुम मुझसे मिलना नहीं चाहती थी इसलिए मैंने मिलने की कोशिश भी नहीं की,कुछ दिन पहले मै लखनऊ गया था।

तुम्हे पता है असद ने दुसरी शादी कर ली है उसका पहले से किसी लड़की के साथ affair था और उनका एक बेटा भी है असद ने तुमसे शादी अपने माँ बाप के कहने से करी थी,इसलिए उसने तुम्हे तलाक़ दी।
इसमे तुम्हारी कोई गलती नहीं है हममे से कोई भी तुम पर तरस नहीं खा रहा है,ज़िन्दगी में किसी के साथ भी ऐसा हादसा हो सकता है और सच्चे दोस्त वो होते हैं जो अपने दोस्तों का साथ कभी न छोड़ें।

शाएना चुपचाप खड़ी थी वो ज़ोर-ज़ोर से रोने लगी असद ने मेरी ज़िन्दगी खराब कर दी । अमित ने कहा तुम अब ये सब भूल जाओ और आगे बढ़ो अपना future बनाओ फिर से लिखना शुरू करू हम सब हमेशा तुम्हारे साथ हैं
शाएना अब थोड़ी ठीक होने लगी थी अब वो हंसती थी, पायल और अमित के साथ घूमने भी जाती थी,एक दिन पायल ने शाएना से कहा ,तुम अमित से शादी क्यों नहीं कर लेती वो आज भी तुमसे बहुत प्यार करता है ,शाएना ने कहा मै अमित के लायक़ नहीं रही मेरे बच्चे भी नहीं हो सकते ना ही मै किसी को खुश रख सकती हूं ।

पायल ने कहा अमित ये सब जानता है लेकिन वो तुमसे फिर भी शादी करना चाहता है पायल ये कहकर चली गई । अगले दिन अमित ने आकर शाएना को शादी के लिये purpose किया पायल ने कहा शाएना प्ल्ज़ इंकार मत करना ।

Story in Hindi Love
Story in Hindi Love

Face
शाएना और अमित की शादी हो गई सुहागरात पर जब अमित कमरे में आया तो शाएना बहुत घबराई होई थी,अमित ने उसका का हाथ पकड़कर कहा जब तक तुम मुझे दोस्त से ज़्यादा कुछ और नहीं समझोगी हमारे बीच सिर्फ दोस्ती का रिश्ता रहेगा |
जिस दिन तुम मुझे अपने प्यार के क़ाबिल समझो अपना हाथ बढ़ा देना।

ये कहकर अमित सोफे पर जाकर सो गया, अमित ने  दो दिन की छुट्टी के बाद office जाना शुरू कर दिया । अमित जैसे ही office से घर आया शाएना ने भागकर उसके हाथ से bag ले लिया जल्दी से जाकर पानी लाई, पूरा घर kitchen सब चमक रहा था,बस शाएना को छोड़कर शाएना ने अपना हाल ऐसा बना रखा था कि उसे देखकर कोई नहीं कह सकता था कि अभी दो दिन पहले उसकी शादी होई है|

शाएना अमित के लिये उसके slipper उठा कर ले आई उसके के हाथ में अपनी चप्पल देख कर अमित सोफे से खड़ा हो गया और भागकर उसके हाथ से चप्पल ले ली और कहने लगा तुम ये सब क्या कर रही हो plz मुझे तकलीफ़ मत पहुंचाओ तुम इस घर की मालिक हो और मेरी भी अगर मै तुम्हारी चप्पल उठाओं तो तुम्हे कैसा लगेगा।

मैं बस तुम्हे खुश और सजा संवरा देखना चाहता हूं मुझे बस इतनी सी ख़ुशी दे दो । अमित की बात सुनकर शाएना रोने लगी,वक़्त बीतता गया शाएना अब पहले की तरह सजने संवरने लगी थी |
पूरा एक महीना बीत गया अमित एक दिन बहुत खुश घर आया अमित के हाथ में फूल, केक, वाइट कलर की साड़ी थी |
अमित ने कहा शाएना आज हमारी शादी को पूरा एक महीना हो गया है जल्दी से ये साड़ी पहनकर तैयार हो जाओ बाहर dinner करेंगे।

अमित ने शाएना की ज़िन्दगी को खुशियों से भर दिया था,थोड़ी देर में शाएना रेडी होकर आ गई अमित उसको देखता ही रह गया वो बहुत खूबसूरत लग रही थी अमित की नज़रें शाएना से हट ही नहीं रही थी, अमित ने शाएना को बेड पर बिठाया और पैर आगे करने के लिए कहा अमित ने उसके पैरों में पायल पहना दी और अपनी सैलरी का चेक भी शाएना के कदमों में रख दिया,वो कहने लगी आप ये क्या कर रहे हैं|

मैं इस सबका क्या करुँगी, अमित ने कहा ये तो सिर्फ पैसे हैं, मेरा बस चले तो मै अपनी जान निकालकर तुम्हारे क़दमों में रख दों, शाएना ने कहा plz आज के बाद ऐसा कभी मत कहना।

अमित और शाएना dinner पर चले गए,शाएना की आँखें अमित से कुछ कह रहीं थी वो कई बार कुछ कहना चाहती और फिर रुक जाती ,अमित और शाएना जब घर लौटे तो अमित अपना तकिया लेकर सोफे पर सोने जाने लगा,शाएना ने अमित का हाथ पकड़ा और कहा तुमने बोला था जिस दिन में तुम्हे दोस्त से ज़्यादा कुछ और समझों अपना हाथ बढ़ा दों, अमित आज में तुमसे बहुत सी दोस्ती और प्यार मांगती हों|
अमित की ख़ुशी का ठीकाना नहीं रहा अमित ने उसे गले से लगा लिया और अपनी शादीशुदा ज़िन्दगी की शुरुआत की।

वो दोनों बहुत खुश थे,लेकिन शाएना हमेशा इस बात से दुखी रहती की वो कभी माँ नहीं बन सकती,एक दिन जब अमित ऑफिस से घर आया तो दरवाज़ा कामवाली ने खोला अमित हैरान था क्योंकि हमेशा शाएना ही गेट खोलती थी।

अमित ने मैड से पूछा तुम्हारी मेमसाहब कहाँ हैं,वो बोली उनकी तबियत कुछ ठीक नहीं है ऊपर कमरे में हैं,अमित दौड़कर कमरे में गया शाएना बेड पर लेटी थी,अमित ने घबराकर पूछा क्या हुआ है, शाएना अमित के गले लगकर ज़ोर-ज़ोर से रोने लगी उसके हाथ में एक रिपोर्ट थी उसने वो रिपोर्ट अमित के हाथ में दे दी।

रिपोर्ट पढ़ते ही अमित ख़ुशी से झूम उठा ,शाएना माँ बनने वाली थी,भगवान ने अमित और शाएना की ज़िन्दगी खुशियों से भर दी थी। सच्चे प्यार में कितनी ताक़त होती है ये इन दोनों के प्यार ने साबित कर दिया |

अगर आपको ये कहानी पसंद आए हो तो अपने दोस्तों के साथ ज़रूर share करें शुक्रिया |

Like My Facebook page :
Love Poetry Status

Subscribe to my Youtube Channel :
Kuchlamhe

 

Leave a Comment

Thor: Love and Thunder’ Trailer Breakdown Love status | Whatsapp status love Anime love quotes | Quotes about love anime Bhool Bhulaiyaa 2 box office day 4 collection Priyanka Chopra Nick Jonas | Nick Jonas Priyanka Chopra Photos