independence day shayari in hindi|deshbhakti shayari in hindi

  • Independence Day quotes
    Independence Day quotes

     Best Independence Day Shayari, Independence Day Quotes, Aaj hum Aapke Liye lekar Aaye hain Independence Day Shayari For You.

    You Can Share This Independence day Shayari with your friends on Facebook, Instagram, or Whatsapp.

                

independence day shayari in hindi

है अमन की पहचान मेरे देश का झंडा
लहराए आसमान पे भारत का तिरंगा

या रब बनादे मेरा वतन प्यार का पैकर
हो मेरा वतन दुनिया में हर देश से बेहतर

मुश्किल से मिले हैं हमें आज़ादी के दिन रात
ये आपसी नफ़रत हमें दे दे ना कहीं मात

दम तोड़ती इस एकता को फिर करें ज़िंदा
लहराए आसमान पे भारत का तिरंगा

Hai Aman Ki Pehchaan Mere Desh Ka jhanda
Lehrae Aasmaan pe Bhaart ka Tiranga

Ya Rab bna de Mera Watan Pyar ka paikr
Ho Mera Watan Duniya Mein Har Desh se Behtr

Mushkil se mile hain humen Aazadi ke din raat
Ye Aapsi nafrat hmen de dena kahin maat

Dum todti is Ekta ko phir karen Zinda
Lehrae Aasmaan pe Bharat ka Tiranga

सलाम करते हैं हम उन्हे जिनकी किस्मत मैं ये दिन आता है
खुशनसीब है वो बेटा जो देश के काम आता है

Slaam karte hain hum unhe jinki qismat main ye din aata hai
Kushnaseeb hai wo beta jo desh के kaam aata hai

deshbhakti shayari in hindi
deshbhakti shayari in hindi

Deshbhakti shayari in hindi

मिटा देंगे वो वजूद जो भारत माँ की तरफ नज़र उठाएगा
इस तिरंगे के आगे हर दुश्मन झुक जाएगा

Mita denge wo wajood jo Bharat Maa ki taraf nazar uthayega
Iss Tirange ke aage har dushman jhuk jayega

हमें प्यार है वतन से देश के लिए जान लूटा देंगे
भारत माता की खातिर एक-एक ख़ून की बूँद बहा देंगे

Humen pyar hai watan se Desh ke liye jaan loota denge
Bharat Mata ki khatir ek-ek khoon ki boond bha denge

मैं अपने देश को दिलों- जान से प्यार करता हूँ
इसकी पावन मिट्टी पर शीश अपना कुर्बान करता हूँ
मुझे फिक्र नहीं है मरने की
तिरंगे में लिपटा आए सिर मेरा ,बस यही अरमान करता हूँ

Mein apne desh ko dilon-jaan se pyar karta hun
Is ki pawan mitti par shish apna qurbaan karta hun
Mujhe fikr nahi hai marne ki
Tirange mein lipta aaye sir mera,bus yahi armaan karta hun

Independence day Sms
Independence Day sms

देंगे सलामी इस तिरंगे को
इससे हमारी शान है
सर हमेशा ऊँचा रखेंगे इसका
जब तक हम में जान है

Denge slaami is tirange ko
Isse hmari shaan hai
sir hamesha uncha rakhenge iska
Jab tak hum mein jaan hai

कभी महबूबा को छोड़ के तो देख,शहीदों को याद करके तो देख
देश से ख़ुद-ब-ख़ुद प्यार हो जाएगा,देश से मोहब्बत करके तो देख

Kabhi mehbooba ko chod ke to dekh,Shahidon ko yaad karke to dekh
Desh se khud-b-khud pyar ho jayega,Desh se mohabbat karke to dekh

कर आवाज़ को बुलंद जवान,तेरे पीछे खड़ी अवाम
हर दुश्मन को मार गिराएँगे,जो भारत की तरफ़ नज़र उठाएगे

Kar aawaz ko buland jwaan,Tere piche khadi awaam
Har dushman ko maar girayege,jo bharat ki taraf nazar uthayege

Also Read This :Best Romantic Shayari 50 +

deshbhakti shayari in hindi
deshbhakti shayari in hindi

independence day shayari in hindi 2019

दुनिया में मिलते हैं महबूब कई
मगर देश से हंसी कोई सनम नहीं होता
हीरों में सिमट जाओ ,सोने से लिपट जाओ
तिरंगे से प्यारा कोई कफ़न नहीं होता

Duniya mein milte hain meboob kai
Magar desh se hansi koi sanam nahi hota
Heeron mein simat jao,sone se lipat jao
Tirange se pyara koi kafan nahi hota

जान की थी कुर्बान वीरों ने देश के लिए
यूँ ही नहीं मिली थी आज़ादी ख़ैरात में

Jaan ki thi qurbaan viron ne desh ke liye
Yun hi nahi mili thi Aazadi khiraat mein

दिल से नफ़रत को निकालो
वतन के दुश्मन को बाहर निकालो
ये देश है ख़तरे में ए -मेरे-हमवतन
भारत माँ की शान बचा लो

Dil se nafrat ko nikallo
Watan ke dushman ko bahr nikalo
Ye desh hai khatre mein A-mere-hamwatan
Bharat maa ki shaan bcha lo

में दूँगा वतन पे जाँ
ये मुल्क मेरी जाँ है
इसकी हिफाज़त के लिए
मेरा सर कुर्बान है

Mein doonga watan pe jaan
Ye mulk meri jaan hai
Iski hifazat ke liye
Mera sir qurbaan hai

शहीदों की चिताओं पर लगेंगे हर बरस मेले,
वतन पे मर मिटनेवालों का बाकी यही निशां होगा

Shahidon ki chitaon par lgenge har bras mele
Watan pe mitne walon ka yahi baqi nishan hoga

deshbhakti shayari in hindi
deshbhakti shayari in hindi

जो देश के लिए मर-मिटे
उनको सलाम करता हों
अपना पूरा जीवन ये
इस देश के नाम करता हों

Jo desh ke liye mar-mite
Unkoo slaam karta hon
apna poora jivan ye
Is desh ke naam karta hon

सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है
देखना है ज़ोर कितना बाज़ोए क़ातिल में है

Sarfroshi ki tamnna ab hmare dil mein hai
Dekhna hai zor kitna bazoye qaatil mein hai

जो देश के लिए ने खौला ,वो लहू नहीं है पानी है
जो देश के काम ना आ सके ,वो बेकार जवानी है

Jo desh ke liye naa khaula ,wo lahu nahi hai pani hai
Jo desh ke kaam naa aa sake,wo bekaar jwani hai

लिख रहा हूं मैं अजांम जिसका कल आगाज आयेगा,
मेरे लहू का हर एक कतरा इकंलाब लाऐगा
मैं रहूँ या ना रहूँ पर ये वादा है तुमसे मेरा कि,
मेरे बाद वतन पर मरने वालों का सैलाब आयेगा

Likh rha hon anjaam jiska kal aagaaz aayega
Mere lahu ka har ek qatra inqlaab laayega
Mein rahon na rahon ye wada hai tumse mera ki
Mere baad watan par marne walon ka sailaab aayega

अपनी आज़ादी को हम हरगिज़ मिटा सकते नहीं
सर कटा सकते हैं लेकिन सर झुका सकते नहीं

Apni aazadi ko hum hargiz mita sakte nahi
Sir kta sakte hain lekin sir jhuka sakte nahi

ये बात दिलों में बसाए रखना
इस गुलशन में बहार सजाए रखना
खून देके करी जिसकी हिफाज़त हमने
इस तिरंगे की शान बढ़ाए रखना

Ye baat dilon mein bsaye rakhna
Is gulshan mein bhaar sjaye rakhna
Khoon deeke kari jiski hifazat humne
Is tirange ki shaan bdhaye rakhna

ग़ुलाम इस देश को वीरों ने आज़ाद कराया
हमको आज़ादी देकर तुमने अपना फर्ज़ निभाया
दिल से तुम्हें सलाम करते हैं
ये आज़ाद वतन जो दिलाया

Ghulam is desh ko viron ne Aazad kraya
Humko Aazadi dekar tumne farz nibhaya
Dil se tumhe slaam karte hain
Ye Aazad watan jo dilaya

लहराएगा तिरंगा अब सारे आसमान पर
भारत का ही नाम होगा सबकी जुबान पर
ले लेंगे उसकी जान या खेलेंगे अपनी जान पर
कोई जो उठाएगा आँख हिंदुस्तान पर

Lehrayega tiranga ab saare aasmaan par
Bharat ka naam hoga sabki zubaan par
Le Lenge uski jaan yaa khelenge apni jaan par
Koi jo uthayega aankh hindustan par

दिल में जुनून आँखों में तूफान रखता हूँ
दुश्मन की साँस थम जाए आवाज़ में इतनी धमक रखता हूँ

Dil mein junoon aankhon mein toofan rkhta hun
Dushman ki saans tham jaye Aawaz mein itni dhamak rakhta hun

देश के लिए मिट जाओं ये भी मंजूर है मुझे
भारत माँ की शान बढ़ाओं ये ही जुनून है मुझे

Desh ke liye mit jaon ye bhi manzoor hai mujhe
Bhaarat Maa ki shaan bdhaon ye hi junoon hai mujhe

Kisi Gajare Ki Khushbu Ko Mehakta Chhod Aaya Hu,
Meri Nanhi Si Chidiya Ko Chahakta Chhod Aaya Hu,
Mujhe Chhati Se Apni Tu Laga Lena Aye Bharat Maa,
Main Apni Maa Ki Baahon Ko Tarasta Chhod Aaya Hu.
Jai Hind…

किसी गजरे की खुशबु को महकता छोड़ आया हूँ,
मेरी नन्ही सी चिड़िया को चहकता छोड़ आया हूँ,
मुझे छाती से अपनी तू लगा लेना ऐ भारत माँ,
मैं अपनी माँ की बाहों को तरसता छोड़ आया हूँ।

प्यार की शहनाई पर यारों
प्रेम के मीठे बोल सुनाओ
अपना वतन फिर अपना वतन है
अपने वतन की शान बढ़ाओ

Pyar ki shehnai par yaaron
Prem ke mithe bol sunao
Apna wataan phir apna watan hai
Apne watan ki shan bdhao

नफरत के सब दीप बुझाकर
दिल में प्यार की जौत जलाकर
हर आँगन की फूलवारी को
प्यार की खुशबू से महका कर
आपस के मतभेद ये सारे
अपने दिल से दूर हटाकर
दिल में ये अरमान जगाओ
काम ये अब करके दिखलाओ
अपना वातन फिर अपना वतन है
अपने वतन की शान बढ़ाओ

Nafrat ke sab deep bujhakr
Dil mein pyar ki jaut jlakr
Har aangan ki phoolwari ko
Pyar ki khushboo se mehkakr
Aaps ke matbhed ye saare
Apne dil se door htaakr
Dil mein ye armaan jgao
Kaam ye ab krke dikhlao
Apna watan phir apna watan hai
Apne watan ki shaan bdhao

Independence Day Shayari
Independence Day Shayari

Independence Day Quotes Images, 15 August Wishes Images

शान तिरंगे की रखना है
ये ही अब अपना सपना है

Shaan tirange ki rkhna hai
Ye hi ab apna sapna hai

Mera Yehi Andaaz Zamaane Ko Khalta Hai,
Ki Chirag Hawa Ke Khilaf Kyun Jalta Hai,
Main Aman Pasand Hoon,
Mere Shahar Mein Danga Rehne Do,
Laal Aur Hare Mein Mat Baanto,
Meri Chhat Par Tiranga Rehne Do.

मेरा यही अंदाज ज़माने को खलता है,
कि चिराग हवा के खिलाफ क्यों जलता है,
मैं अमन पसंद हूँ,
मेरे शहर में दंगा रहने दो,
लाल और हरे में मत बांटो,
मेरी छत पर तिरंगा रहने दो।

Khushnaseeb Hain Wo Jo
Watan Pe Mit Jaate Hai,
Mar Kar Bhi Wo Log
Amar Ho Jaate Hai,
Karta Hoon Tumhe Saalam
Ai Watan Pe Mitne Walo
Tumhari Har Saans Mein Basna
Tirange Ka Naseeb Hai.
Jai Hind…!

खुशनसीव हैं वो जो
वतन पे मिट जाते हैं,
मर कर भी वो लोग
अमर हो जाते हैं,
करता हूँ तुम्हे सलाम
ऐ वतन पर मिटने वालो,
तुम्हारी हर सांस में बसना
तिरंगे का नसीव है।
जय हिन्द…!

हम अपने वतन की कश्ती को तूफ़ान से पार लगाएगे
नफरत के अंधेरों से बचकर प्यार के दीप जलाएगे

Hum apne watan ki kashti ko toofan se paar lgayenge
Nafrat ke andheron se bachkr pyar ke deep jlayenge

इस देश के सुंदर नक्शे में हम प्यार के रंग उभारेगे
जहाँ अमन के रंग हुए फीके उन कोनों को सवारेंगे
इन ज़ात-पात के झगड़ों को भारत से दूर हटाएँगे
फिर अपने वतन की धरती को स्वर्ग से सुंदर बनाएँगे

Is desh ke sundr Naqshe mein hum pyar ke rang ubharenge
Jhan aman ke rang hue phike un konon ko swarenge
In zaat-paat ke jhagdon ko Bhart se door htayenge
Phir apne watn ki Dharti ko swarg se sundr bnayenge

फिर अपने वतन की ख़ातिर कुर्बान करेंगे तन-मन-धन
अपने वतन की धरती पर होगा ना कोई अपना दुश्मन

Phir Apne watn ki khatir qurbaan karenge Tan-Man-Dhan
Apne Watn ki Dharti par hoga naa koi apna Dushman

हर एक तूफ़ान से टकराओगे और हिम्मत न हारोगे
के भारत माँ के तुम बिखरे हुए गेसू सवारोगे

Har ek Toofan se tkraoge aur Himmat naa haroge
Ke Bhart Maa ke tum Bikhre hue gesu swaronge

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

1 thought on “independence day shayari in hindi|deshbhakti shayari in hindi”

Leave a Comment

Motivational Good evening quotes Best Bakrid mubarak Wishes 2022 Best Nazar Shayari Palak Tiwari Killer Look Justin Bieber: फेमस पॉप सिंगर जस्टिन बीबर को हुआ पैरालिसिस इन बीमारियों के भी हो चुके हैं शिकार